|        |        |     Yearly Festival Calendar    |    
 
Wallpapers
   
 
 
 
  Vegetarian Restaurants
 
Like Our
Facebook Page
to Get
Regular Updates
धार्मिक स्थल
» Gurudwaras(गुरूद्वारे)
» अदभुत धार्मिक स्थल
» विशेष धार्मिक स्थल
» मुख्य धार्मिक स्थल

Subscribe for Newsletter

» »
शुभ मुहूर्त या समय~चौघड़िया

किसी भी कार्य को शुभ मुहूर्त या समय पर प्रारंभ किया जाए तो परिणाम अपेक्षित आने की संभावना ज्यादा प्रबल होती है। यह शुभ समय चौघड़िया में देखकर प्राप्त किया जाता है।

 

दिन के चौघड़िया 

से तक रवि सोम मंगल बुध गुरु शुक्र शनि
6:00 AM 7:30 AM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल
7:30 AM 9:00 AM चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ
9:00 AM 10:30 AM लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग
10:30 AM 12:00 PM अमृत रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग
12:00 PM 1:30 PM काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर
1:30 PM 3:00 PM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
3:00 PM 4:30 PM रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत
4:30 PM 6:00 PM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल

 

 

 

रात्रि के चौघड़िया 

से तक रवि सोम मंगल बुध गुरु शुक्र शनि
6:00 PM 7:30 PM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
7:30 PM 9:00 PM अमृत रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग
9:00 PM 10:30 PM चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ
10:30 PM 12:00 AM रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत
12:00 AM 1:30 AM काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर
1:30 AM 3:00 AM लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग
3:00 AM 4:30 AM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल
4:30 AM 6:00 AM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
 
विशेष-दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। समयानुसार चौघड़िया को तीन भागों में बांटा जाता है शुभ, मध्यम और अशुभ चौघड़िया। इसमें अशुभ चौघड़िया पर कोई नया कार्य शुरु करने से बचना चाहिए।
 
शुभ चौघडिया शुभ (स्वामी गुरु), अमृत (स्वामी चंद्रमा), लाभ (स्वामी बुध)
मध्यम चौघडिया चर (स्वामी शुक्र)
अशुभ चौघड़िया उद्बेग (स्वामी सूर्य), काल (स्वामी शनि), रोग (स्वामी मंगल)


 
Like Our Facebook Page, to Get Regular Updates
Comment
 
Name:
Email:
Comment:
Back
 
 
 
Articles
16 अद्भुत बातें
मां के आशीर्वाद से ही परमधाम संभव
Srila Bhaktivedanta Narayana Maharaja
पूजा में पुष्प चढाने की विधि
वास्तु दोष निवारण में श्री गणेश का योगदान
Nadi Astrology
All Articles
Upcoming Events
» When is Diwali 2014, 23 October 2014, Thursday
» Govardhan Puja 2014 Date, 24 October 2014, Friday
» When is Bhai Dooj 2014, 25 October 2014, Saturday
More
 
Vastu Tips
How Vastu Shastra works
Legends of Vastu Purusha
What is Vaastushastra
वास्तु में रंगों का महत्व
Types of Plots
ओम शब्द में छुपा सुख समृद्घि का रहस्य
Ganesha in Vastu
More
Vegetarian Recipes
» Sattu Dalia
» Drumstick and Cashew Curry
» Paneer Chilly Dosa
» Mango and Pineapple Crumble
» HARA CHANA MASALA RECIPE
» SHAHI PANEER RECIPE
» ALOO METHI RECIPE
» Brazilian Black Bean Stew
More
 
Feng Shui Tips
Feng shui bagua
Feng Shui Dragon
Power Beads
View all
Lal Kitab Remedies
बरकत के लिए वास्तु का अदभुत प्रयोग
परीक्षा में अच्छे नंबर लेन हेतु उपाय
कालसर्प योग शुभ फल~Kalsarp Yoga Auspicious Results
राशि और रत्न~Lucky Gemstone and Ascendants
Remedy to defeat enemies
View all Remedies...
 
 
 
Sun Sign Details
 
Aries
Taurus
Gemini
Cancer
Leo
Virgo
Libra
Scorpio
Sagittarius
Capricorn
Aquarius
Pisces
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
 
 
Deities Wallpaper
Goddess Saraswati
Goddess Mahakali
Lord Krishna
Goddess Durga
 
Prashnawali

Ganesha Prashnawali

Ma Durga Prashnawali

Ram Prashnawali

Bhairav Prashnawali

Hanuman Prashnawali

SaiBaba Prashnawali
 
Interesting Stories
दुष्ट का क्षणिक संग भी कष्टकरी होता है
Accept what is and let go of the need to know.
मन की सोच
प्यार से इंसान का बदलाव
शक्ति जीवन है, दुर्बलता ही मृत्यु
All Inspirational Stories
 
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
Dream Analysis
Dream
  like Wife, Mother, Water, Snake, Fight etc.
 
 
» Hour-Minute To Ghati-Pal Calculator
» Ghati-Pal To Hour-Minute Calculator
» Sunrise-Sunset Calculator
» Rahukaal Calculator
» Chaughdiya Calculator
» Rashi Calculator
 
Essays
Essay on Mothers Day
Essay on Gangaur
Essay on Baisakhi
Essay on Lohri
Essay on Dussehra
Essay on Raksha Bandhan
Essay on Holi
Essay on Diwali
All Essays
 
 
Find More
 
Quick List
   |    |   
 
 
Google+   
 
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.