|        |        |        |    
 
Wallpapers
   
 
 
 
  Vegetarian Restaurants
 
Like Our
Facebook Page
to Get
Regular Updates
धार्मिक स्थल
» Gurudwaras(गुरूद्वारे)
» अदभुत धार्मिक स्थल
» विशेष धार्मिक स्थल
» मुख्य धार्मिक स्थल

Subscribe for Newsletter

» »
शुभ मुहूर्त या समय~चौघड़िया

किसी भी कार्य को शुभ मुहूर्त या समय पर प्रारंभ किया जाए तो परिणाम अपेक्षित आने की संभावना ज्यादा प्रबल होती है। यह शुभ समय चौघड़िया में देखकर प्राप्त किया जाता है।

 

दिन के चौघड़िया 

से तक रवि सोम मंगल बुध गुरु शुक्र शनि
6:00 AM 7:30 AM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल
7:30 AM 9:00 AM चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ
9:00 AM 10:30 AM लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग
10:30 AM 12:00 PM अमृत रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग
12:00 PM 1:30 PM काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर
1:30 PM 3:00 PM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
3:00 PM 4:30 PM रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत
4:30 PM 6:00 PM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल

 

 

 

रात्रि के चौघड़िया 

से तक रवि सोम मंगल बुध गुरु शुक्र शनि
6:00 PM 7:30 PM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
7:30 PM 9:00 PM अमृत रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग
9:00 PM 10:30 PM चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ
10:30 PM 12:00 AM रोग लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत
12:00 AM 1:30 AM काल उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर
1:30 AM 3:00 AM लाभ शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग
3:00 AM 4:30 AM उद्बेग अमृत रोग लाभ शुभ चर काल
4:30 AM 6:00 AM शुभ चर काल उद्बेग अमृत रोग लाभ
 
विशेष-दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। समयानुसार चौघड़िया को तीन भागों में बांटा जाता है शुभ, मध्यम और अशुभ चौघड़िया। इसमें अशुभ चौघड़िया पर कोई नया कार्य शुरु करने से बचना चाहिए।
 
शुभ चौघडिया शुभ (स्वामी गुरु), अमृत (स्वामी चंद्रमा), लाभ (स्वामी बुध)
मध्यम चौघडिया चर (स्वामी शुक्र)
अशुभ चौघड़िया उद्बेग (स्वामी सूर्य), काल (स्वामी शनि), रोग (स्वामी मंगल)


 
Like Our Facebook Page, to Get Regular Updates
Comment
 
Name:
Email:
Comment:
Back
 
 
 
Articles
सीता की शक्ति तथा पराक्रम
समृद्धिदायक अचूक प्रयोग
Nadi Astrology
सिद्ध वशीकरण मन्त्र
मां दुर्गा के श्लोक व क्षमा प्रार्थना
जन्मभूमि का इतिहास कृष्ण की नगरी
All Articles
Upcoming Events
» Saphala Ekadashi 2014 Date, 18 December 2014, Thursday
» What is Chhath puja, 25 December 2014, Thursday
» Pausha Putrada Ekadashi 2015, 1 January 2015, Thursday
More
 
Vastu Tips
What is Vaastushastra
भूत-प्रेत बाधा से बचाता है ये आसान उपाय
Vasthu Sastra for office
Vastu Tips For Dining Room
शनि की साढ़ेसाती और उससे बचने के उपाय
Vastu Purusha Mandala
Rooms Positions in Vastu
More
Vegetarian Recipes
» Rasogolla
» INDIAN VEGETABLE CURRY RECIPE
» Mysore Bonda
» PUNJABI ALOO AMRITSARI RECIPE
» Machcher Jhol
» ALOO SABZI RECIPE
» Dosa (Idlis & Dosas)
» Vegetable Korma
More
 
Feng Shui Tips
Five Elements of Feng Shui
Lasting Romance, Wealth And A life Full Of Beauty and Luxury
Indoor Water Fountains
View all
Lal Kitab Remedies
अनुभूत टोटके
Remedies for Rahu
मोर पंख का महत्त्व
Selection of Life partner and Lalkitab
शनि ग्रह पीड़ा निवारक टोटका
View all Remedies...
 
 
 
Sun Sign Details
 
Aries
Taurus
Gemini
Cancer
Leo
Virgo
Libra
Scorpio
Sagittarius
Capricorn
Aquarius
Pisces
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
 
 
Deities Wallpaper
Lord Krishna
Lord Ganesha
Lord Shiva
Goddess Durga
 
Prashnawali

Ganesha Prashnawali

Ma Durga Prashnawali

Ram Prashnawali

Bhairav Prashnawali

Hanuman Prashnawali

SaiBaba Prashnawali
 
Interesting Stories
सुखी व दुखी संत
जीवन में सदा आगे बढ़ने के लिए
भक्त कबीर जी के जीवन से जुडी कहानी
धन अपने आप अर्जित किया हुआ ही फलदायी
कर्तव्य मेरा सर्वोपरि
All Inspirational Stories
 
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
Dream Analysis
Dream
  like Wife, Mother, Water, Snake, Fight etc.
 
 
» Hour-Minute To Ghati-Pal Calculator
» Ghati-Pal To Hour-Minute Calculator
» Sunrise-Sunset Calculator
» Rahukaal Calculator
» Chaughdiya Calculator
» Rashi Calculator
 
Essays
Essay on Mothers Day
Essay on Gangaur
Essay on Baisakhi
Essay on Lohri
Essay on Dussehra
Essay on Raksha Bandhan
Essay on Holi
Essay on Diwali
All Essays
 
 
Find More
 
Quick List
   |    |   
 
 
Google+   
 
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.