Subscribe for Newsletter
|| शत्रु को मित्र बनाने का मन्त्र  ||

“गरल सुधा रिपु करहिं मिताई ।
गोपद सिन्धु अनल सितलाई ।।”

मन्त्र की प्रयोग विधि और लाभः-
नवरात्रि के पवित्र समय पर इस मन्त्र को १००० बार प्रतिदिन जपें । जब आवश्यकता हो इस मन्त्र से शक्तिकृत करके गोरोचन का टीका लगा लें । किसी भी कार्य से शत्रु के समक्ष जायें, तो वह मित्रवत् बन जाता है ।

 
Mantra Collection
Ringtones
Find More
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com