Subscribe for Newsletter
Pilgrimage in India -अदभुत धार्मिक स्थल


समुद्र तल से 13600फीट की ऊंचाई पर स्थित पवित्र अमरनाथ गुफाजम्मू-कश्मीर के उत्तर-पूर्व में स्थित है। 16मीटर चौडी और लगभग 11मीटर लंबी यह गुफाभगवान शिव के प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है। गुफामें बनने वाला पवित्र हिमलिंगशुक्ल पक्ष के दौरान बढने लगता है, जबकि कृष्ण पक्ष में चंद्रमा के आकार के साथ ही इसका आकार भी घटने लगता है।

एक पौराणिक आख्यान है कि मां पार्वती ने एक बार भगवान शिव से उनके मुंडमाला पहनने का कारण पूछा। शिव ने कहा कि जब भी तुम जन्म लेती हो, मैं इसमें एक मुंड और जोड लेता हूं। इस पर पार्वती सोचने लगीं कि साक्षात शक्ति होते हुए भी मुझे बार-बार जन्म लेना पडता है, परंतु भगवान शिव अजर-अमर हैं। मां पार्वती शिव से उनके अमरत्व का रहस्य जानने को व्याकुल हो उठीं। भगवान शिव नहीं चाहते थे कि उनके अलावा कोई और अमरत्व के रहस्य सुने, इसलिए वे ऐसे निर्जन स्थान की तलाश करने लगे, जहां कोई न हो। तब उन्हें मिली अमरनाथ गुफा।

ऐतिहासिक महत्व

कल्हणकी ऐतिहासिक पुस्तक राजतरंगिणीमें अमरनाथ गुफाका उल्लेख मिलता है। इसका अस्तित्व 12वींसदी से पहले का माना जाता है, परंतु मौजूदा दौर में इसकी खोज मुसलमान गडरियेबूटा मलिक ने की थी। उसने सर्वप्रथम इस गुफामें प्राकृतिक हिमलिंगबनने की खबर सबको दी। आज तक बूटा मलिक के परिवार को अमरनाथ पर चढने वाले चढावे का एक हिस्सा दिया जाता है।

आध्यात्मिक आभास

सावन के महीने में भक्तों का सैलाब उमड पडता है। आस्था, उल्लास, उत्सव और सेवा का समागम एक साथ दिखाई देता है। यात्रा शुरू होने से पहले ही मंदिरों का शहर जम्मू साधुओं का डेरा बन जाता है।

यात्रा मार्ग

यात्रा जम्मू से शुरू होती है। इसके दो मार्ग हैं। पहला मार्ग पहलगामसे, तो दूसरा बालटालसे शुरू होता है। श्रीअमरनाथश्राइनबोर्ड यात्रियों की सुरक्षा और सुगमता के लिए पहलगाममार्ग से यात्रा करने की सलाह देता है। यह मार्ग लंबा, परंतु बालटालकी तुलना में कम जोखिम भरा है।

जम्मू से पहलगाम315किलोमीटर की दूरी पर है। जहां एसआरटीसीकी बसों और निजी टैक्सियों से पहुंचा जा सकता है। पहलगामसे चंदनबाडी16किलोमीटर, चंदनबाडीसे पिस्सु टॉप 3किलोमीटर, पिस्सु टॉप से शेषनाग 9किलोमीटर, शेषनाग से पंचतरणी12किलोमीटर और पंचतरणीसे गुफाका रास्ता 6किलोमीटर का है।

वहीं, दूसरे मार्ग में जम्मू से ऊधमपुर,काजीगुंड,अनंतनाग, श्रीनगर और सोनमर्गहोते हुए बालटालपहुंचा जा सकता है। बालटालसे पवित्र गुफामहज 14किलोमीटर की दूरी पर है। बालटालसे 2किलोमीटर पर दोमेल,दोमेलसे 5किलोमीटर पर बरारीमार्ग, यहां से संगम 4किलोमीटर और संगम से गुफामात्र 3किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

please like this
State : Jammu and Kashmir
Other Pilgrimages of Jammu and Kashmir are :
धार्मिक स्थल
»      Akshardham
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com