|        |        |     Yearly Festival Calendar    |    
 
Wallpapers
   
 
 
 
  Vegetarian Restaurants
 
Like Our
Facebook Page
to Get
Regular Updates
धार्मिक स्थल
» Gurudwaras(गुरूद्वारे)
» अदभुत धार्मिक स्थल
» विशेष धार्मिक स्थल
» मुख्य धार्मिक स्थल

Subscribe for Newsletter

Thought of the Day
"It is not in the stars to hold our destiny but in ourselves."
    Posted By :   
 
"You’ve gotta dance like there’s nobody watching, love like you’ll never be hurt, sing like there’s nobody listening, and live like it’s heaven on earth."
    Posted By :   
 
"Your mind will push your thoughts, your thoughts will push your actions, while your actions will push your life"
    Posted By :   
 
"Too many people spend their lives looking in the rear view mirror, regretting what could have been. I say....STOP & LOOK around at all that you have. Then continue on your journey by looking only ahead to all the wonderful possibilities that are in front of you"
    Posted By :   
 
"If you stand for a reason, be prepared to stand like a tree. If you fall onto the ground, fall like seed that grows back to fight again."
    Posted By :   
 
"With courage you will dare to take risks, have the strength to be compassionate, and the wisdom to be humble. Courage is the foundation of integrity."
    Posted By :   
 
"Our burdens are sometimes too heavy for our shoulders to carry, that's why we need God to carry them for us"
    Posted By :   
 
"True love never needs the expression of words, it speaks the language blessed by God and when it speaks, only miracles happen."
    Posted By :   
 
"You may not have wings to qualify as an angel but by your deeds, in the life of others, you are the angel they get to see"
    Posted By :   
 
"No matter what darkness surrounds you, be the brightest twinkling star that shines through."
    Posted By :   
 
"All it takes to make it is: God, you, your passion, your determination and drive, your vision/dream. All put together is a big package for success."
    Posted By :   
 
"No one will help you if you are not going to help yourself! First: Help yourself then God will see your efforts and He will send someone to help you more. Everything in life it doesn't start from somewhere; it starts with you to get somewhere! Talk not about everything because everything leads to nowhere. Talk and walk to find something that will lead you to somewhere."
    Posted By :   
 
"The purpose of dancing isn't to end up at a particular spot on the floor. The purpose of dancing and of life is to enjoy every moment and every step, regardless of where you are when the music ends."
    Posted By :   
 
"If you desire with all your heart, friendship with every race on earth, your thought, spiritual and positive, will spread; it will become the desire of others, growing stronger and stronger, until it reaches the minds of all men."
    Posted By :   
 
"Human beings are windows into the mind of God. Some of us are dusty and some of us are dirty. Blow away our dust and wipe away our dirt; only then will you see the beauty within."
    Posted By :   
 
"If God is with me..... Who can be against me?"
    Posted By :   
 
"Nature is God's Social Network."
    Posted By :   
 
"It's not over until God says it's over. People may tell you it's over, the situation may tell you it's over - it will only be over on your death day."
    Posted By :   
 
"" It's not about where we have been or the imperfections we have had in our past. It's about how many lives we touch along the way sharing God's Love and strength with one another that God has instilled in us for our journey!"
    Posted By :   
 
"Hope shares kindness and support. Hope shares the impossible. Hope shares life. Hope shares true friends."
    Posted By :   
 
"We increase our ability, stability, and responsibility when we increase our sense of accountability to God."
    Posted By :   
 
"No matter what your current situation is, you've never been more blessed than you are right now. Every second we get is an absolute miracle."
    Posted By :   
 
"Stumbling blocks, disappointment, trials are all steppingstones to greater joy than you've ever known. For pains that cause the heart to ache become the strength by which we climb to higher heights. And feel the radiance of God's smiles, when we have soared above life's trials. God didn't promise days without struggle, sun without rain, but He did promise strength for the day, comfort for the tears, and light for the way. If God brings you to it, He will help you through it. Don't let setbacks make you give up in life. God will never leave you or forsake you. He will make a way when all hope is lost. If you put your trust in God he will turn your sorrow to joy and your darkness to light."
    Posted By :   
 
"What is in the vicinity of our minds are the negative situations surrounding us, but deep in our hearts we have a different picture of our great destiny."
    Posted By :   
 
"Never ever allow your today situation to scare you from achieving your goals because the most high God has a purpose for your life."
    Posted By :   
 
"No, we're not perfect, but are working through the imperfections and thanking God for the process and progress."
    Posted By :   
 
"“How sweet, how passing sweet is solitude. Good thought But grant me still a friend in my retreat, Whom I may whisper Solitude is sweet"
    Posted By :   
 
"Hard-work is like stairs and luck is like lift. Sometimes lift may fail.but stairs will always take you to the top."
    Posted By :   
 
"The happiest people don't have the best of everything. They just make the best of everything. Live simply. Love generously. Care deeply. Speak kindly."
    Posted By :   
 
"People are like stained-glass windows. They sparkle and shine when the sun is out, but when the darkness sets in, their true beauty is revealed only if there is a light from within."
    Posted By :   
 
""If you love two people at the same time, choose the second one, because if you really loved the first one you wouldn’t have fallen for the second""
    Posted By :   
 
"" Be careful with your words. Once they are said they can only be forgiven, not forgotten."
    Posted By :   
 
"Zindagi USTAD Se Ziyada Sakht Hoti Hai “. USTAD Sabaq Dy Kar Imtehan Leta Hai..¤ Aur Zindagi Imtehan Ly Kar Sabaq Deti Hai..¤ Thats True"
    Posted By :   
 
"व्याध यानि बहेलिये का कौन सा अच्छा आचरण था ? बालक ध्रुव की क्या आयु थी ? गजेन्द्र नामक हाथी के पास कौन सी विद्या थी ? विदुर की कौन सी ऊँची जात थी ? यादवपति अग्रसेन का कौन सा पुरूषार्थ था ? कुब्जा का कौन सा सुन्दर रूप था ? सुदामा कौऩ सा धनी थे ? माधव तो केवल निश्छल भक्ति के अधीन हैँ उन्हे किसी गुँण अथवा ढ़ोंग से नही पाया जा सकता है"
    Posted By :   
 
"अच्छे काम करने वाले का ना तो इस लोक में कुछ बिगड़ता है और ना ही परलोक में क्योंकि कल्याणकारी काम करने वाले की कभी दुर्गति नही हो सकती"
    Posted By :   
 
"भगवानके अतिरिक्त और किसीका विश्वास तुम्हें धोखा देकर ही रहेगा, यह परम सत्य है। सम्भव है, इस बातका बोध तुम्हें बहुत ठोकर खानेके बाद हो परंतु यदि अभीसे भगवानपर विश्वास कर लो तो ठोकर खानेका अवसर ही न आवे।"
    Posted By :   
 
"Think, how hard it is to change yourself. How can it be easy to change others? Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"How can the one who does not control his tongue, control his mind? Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"The worst of sinners attracts the Lord’s mercy when he chants the names of Shri Hari. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"Bhakti is the paras that turns the most fallen among men into saints. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"God gives us opportunity to serve him by serving humanity. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"There are many who wish to be masters over others. Rare indeed is the man who wishes to be master of himself. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"Remembrance of the Lord is nectar, forgetfulness of the Lord is poison. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"You are not really growing, if you are not growing spiritually. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"Save now, so you are not dependant on your children when you are old. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"He who chants Shri Hari’s names turns poison into nectar. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"Serve your parents if you expect your children to serve you when you are old. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"Say Hari-Hari when you incur loss, do not despair. Mamtamai Shri Radhe Maa "
    Posted By :   
 
"किसी की बुराई तलाश करने वाले इंसान की मिसाल उस "मक्खी" जैसी है जो सारे खूबसूरत बदन को छोड़कर, केवल "जख्मों" पर ही बैठती है !"
    Posted By :   
 
"जिस प्रकार आयुर्वेद में निरोग्य रहने के लिए वात, पित्त और कफ का संतुलन जरूरी है, उसी प्रकार पारिवारिक सुख और शांति के लिए स्नेह, सम्मान और स्वतंत्रता का संतुलन जरूरी है"
    Posted By :   
 
"जीतने वाले कोई अलग काम नहीं करते, वे हर काम को अलग ढंग से करते है|"
    Posted By :   
 
"जीवन में उपयोगी बने रहना ही जिन्दा रहने की निशानी है "
    Posted By :   
 
"नेकियाँ कर के जो दरिया में कभी डाली हैं, वही तूफ़ान में, मिल जाएँगी; कश्ती बन कर।"
    Posted By :   
 
"Khwahish aisi karo ki aasman tak ja sako, Dua aisi karo ki khuda ko pa sako, Yun to jeene ke liye pal bahut kam hain, Jiyo aise ki har pal mein zindagi pa sako"
    Posted By :   
 
"रख हौसला वोह मंजर भी आएगा प्यासे के पास चल के समंदर भी आएगा थक कर ना बैठ ऐ मंजिल के मुसाफिर मंजिल भी मिलेगी और मिलने का मजा भी आएगा"
    Posted By :   
 
""सारा जगत स्वतंत्रता के लिए लालायित रहता है फिर भी प्रत्येक जीव अपने बंधनो को प्यार करता है।" - श्री अरविंद"
    Posted By :   
 
""कामनाएँ समुद्र की भाँति अतृप्त होती हैं। पूर्ति का प्रयास करने पर उनका कोलाहल और बढ़ता है।" - स्वामी विवेकानंद -"
    Posted By :   
 
"गुरु नानक देव की वाणी जैसे-जैसे उसका हुक्म होता है उसके अनुसार ही सारा काम चलता है। . जिन पर उसकी अपार कृपा दृष्टि होती है वह ही इस कार्य में लगते हैं। अपने-अपने कर्मों से कोई उसके निकट और कोई उससे दूर है।"
    Posted By :   
 
"दूसरों को ख़ुशी देने जितनी उदारता अगर अपने में न हो तो कोई बात नहीं पर दूसरों को गम देने जितनी क्रूरता तो अपने में नहीं होनी चाहिए"
    Posted By :   
 
"जीतने वाले कोई अलग काम नहीं करते, वे हर काम को अलग ढंग से करते है|"
    Posted By :   
 
"सो जाता है हर कोई, अपने कल के लिए, पर यह कोई नहीं सोचता की आज दिल दुखाया जिसका, वो सोया होगा की नहीं..!!..ॐ शांति..!!"
    Posted By :   
 
"ये भी एक दुआ है खुदा से, किसी का दिल न दुखी मेरी वज़ह से, ए खुदा कर दे कुछ ऎसी इनायत मुझ पे, की खुशियाँ ही मिले सब को मेरी वज़ह से"
    Posted By :   
 
"जीभ में हड्डियाँ नहीं होती फिर भी हड्डियाँ तोड़ने की ताक़त रखती है !"
    Posted By :   
 
"“Everything is always created twice, first in the mind and then in reality” - Anonymous “हर चीज का सृजन दो बार होता है, पहले दिमाग में और दूसरी बार वास्तविकता में।” - अज्ञात"
    Posted By :   
 
"जिसे मान सम्मान मिलने पर अकड़ना नहीं आता और अनादर मिलने पर दुखी नहीं होता| जिसके स्वभाव में बदला लेना और बैर रखना नहीं है| ऐसे व्यक्ति का ह्रदय भगवान का मंदिर है"
    Posted By :   
 
"केवल ज्ञान ही एक ऐसा "अक्षय तत्त्व" है, जो कहीं भी, किसी अवस्था और किसी काल में भी "मनुष्य" का साथ नहीं छोड़ता..!!!"
    Posted By :   
 
"बच्चे हम से ही सीखते हैं। हम जो-जो करते हैं, वे उसी की नकल करते हैं। अगर हम बड़ों का सम्मान करेंगे तो वे भी सम्मान करना ही सीखेंगे।"
    Posted By :   
 
"बड़ा आदमी बनना अच्छी बात है लेकिन अच्छा आदमी बनना बहुत बड़ी बात है !"
    Posted By :   
 
"जीवन फूलोँ की सेज नहीँ, संघर्ष का मैदान है."
    Posted By :   
 
"कहते हैं ! बड़ों में भगवान होते हैं जो छोटे समझें तो इन्सान होते हैं हमने हर कदम आशीष लेकर देखा है ताकत मिलती है जब परेशान होते हैं ."
    Posted By :   
 
"जो मन की पीड़ा को स्पष्ट रूप से नहीं कह पाता, उसी को क्रोध अधिक आता है"
    Posted By :   
 
""अच्छा समाज" वह नहीं है, जिसके अधिकांश सदस्य अच्छे हैं l बल्कि, वह है जो अपने बुरे सदस्यों को प्रेम के साथ अच्छा बनाने में सतत्त प्रयत्नशील है l l"
    Posted By :   
 
""बात" अच्छी है तो उसकी हर जगह चर्चा करो, है बुरी तो "दिल" में रखो, फिर "उसे" अच्छा करो..!!!"
    Posted By :   
 
"रिश्ते खून के नहीं होते,एहसास के होते हैं। अगर एहसास हो तो,अजनबी भी अपने, और अगर एहसास न हो तो अपने भी अजनबी होते हैं।"
    Posted By :   
 
"अगर आपके पाँव में जूते नहीं हैं तो अफसोस न करे ऐसे भी लोग हैं जिनके पाँव ही नहीं है."
    Posted By :   
 
"किसी के दिल को चोट पहुचाकर माफ़ी मांगना बहुत ही आसान है लेकिन खुद चोट खाकर, दूसरों को माफ़ करना बहुत मुश्किल है."
    Posted By :   
 
"सुख और दुःख सिक्के के दो पहलू हैं | सुख जब मनुष्य के पास आता है,तब दुःख का मुकुट पहनकर ही आता है | -स्वामी विवेकानंद"
    Posted By :   
 
"श्रेष्ठ संगत ही जीवन को श्रेष्ठ बना सकती है। यदि मन को बस में करना हो तो श्रेष्ठ संगत अपनाएं, दुर्गुणों से अपने आप छुटकारा मिल जाएगा।."
    Posted By :   
 
" शिकायत कम करें, मुस्कुराएँ ज्यादा"
    Posted By :   
 
"रात को सोने से पहले और सुबह उठते ही ईश्वर को धन्यवाद अवश्य समर्पित करो, वो इसलिए कि उसी की कृपा से हम सबका बहुत अच्छा दिन गुजरा व हम सब नई सुबह का सूरज देख पाए"
    Posted By :   
 
""छाता और दिमाग" जब खुले हुए होते हैं तभी उचित प्रयोग में आते हैं नहीं तो बेकार बोझ बढ़ाते रहते हैं !"
    Posted By :   
 
"सबसे उत्तम प्रतिशोध क्षमा करना है."
    Posted By :   
 
"आपका आज का पुरुषार्थ आपका कल का भाग्य है"
    Posted By :   
 
"कदाचित सोने और चांदी के कैलाश के समान असंख्य पर्वत हो जायें तो भी लोभी पुरूष को तृप्ति नहीं होती क्योंकि इच्छा आकाश के समान अनंत है"
    Posted By :   
 
"कदाचित सोने और चांदी के कैलाश के समान असंख्य पर्वत हो जायें तो भी लोभी पुरूष को तृप्ति नहीं होती क्योंकि इच्छा आकाश के समान अनंत है।"
    Posted By :   
 
"बिना लिबास आये थे इस जहां मैं...बस एक कफ़न की खातिर इतना सफ़र करना पड़ा."
    Posted By :   
 
"ध्यान की शक्ति कई भाषणों और लेखनों से अधिक है ."
    Posted By :   
 
"Arise! Awake! Stop not until your goal is achieved."
    Posted By :   
 
"कुछ इस तरह से मैंने अपनी जिंदगी को आसान किया कुछ से माफ़ी भी मांगी और कुछ को माफ़ भी किया."
    Posted By :   
 
"कुछ इस तरह से मैंने अपनी जिंदगी को आसान किया कुछ से माफ़ी भी मांगी और कुछ को माफ़ भी किया."
    Posted By :   
 
""साहसी" सदा जोखिम उठाते हैं और जिन लोगों में स्वयं साहस नहीं होता वे सदा दूर से ताली बजाने का काम करते हैं !!"
    Posted By :   
 
"रोने पर तो "आँसू" भी पराये हो जाते हैं, पर ("मुस्कुराने") से पराये भी अपने हो जाते हैं..!!!"
    Posted By :   
 
"सब्र एक ऐसी सवारी है जो अपने "सवार" को कभी गिरने नहीं देती.. न किसी के कदमो में और न किसी की नजरो मे "
    Posted By :   
 
"सत्य और चरित्र की रक्षा के लिए सर्वस्य त्यागना पड़े तो त्याग देना चाहिए, किन्तु सत्य और चरित्र का कदापि त्याग नहीं करना चाहिये! सत्य और चरित्र जीवन की अनमोल निधि हें "
    Posted By :   
 
"दिमाग ठंडा हो ,दिल में रहम हो ,जुवान नरम हो , आखों में शरम हो तो फिर सब कुछ तुम्हारा है "
    Posted By :   
 
"बात को कहने का ढगं बदल लो, बस वाद विवाद खत्म हो जायेगा "
    Posted By :   
 
""सीमा नियातिकरण" अत्यंत आवश्यक है- क्योंकि..."अति" अगर अच्छाई की हो तो, वह भी अंततः बुराई में परिवर्तित हो जाती है....!!"
    Posted By :   
 
"अगर आप घर में रहते हुए संतुष्ट नहीं हैं तो घर छोड़कर कभी संतुष्ट नहीं हो सकते। भगवा कपड़े पहन कर आप संन्यासी बन भी जाएं तो मन को शांति नहीं मिलेगी। घर की जिम्मेदारियों को प्रेम से पूरा करते हुए संतुष्ट रहना और अपने उद्धार के लिए गुरु द्वारा बताए मार्ग पर चलते रहना गृहस्थ का संन्यास ही है। जिम्मेदारियों से पीछे न हटें, उन्हें निभाएं। ईश्वरीय प्रेरणा तो अदृश्य कृपा है और वह पूर्णत: रहस्यमय है।"
    Posted By :   
 
"अगर आप घर में रहते हुए संतुष्ट नहीं हैं तो घर छोड़कर कभी संतुष्ट नहीं हो सकते। भगवा कपड़े पहन कर आप संन्यासी बन भी जाएं तो मन को शांति नहीं मिलेगी। घर की जिम्मेदारियों को प्रेम से पूरा करते हुए संतुष्ट रहना और अपने उद्धार के लिए गुरु द्वारा बताए मार्ग पर चलते रहना गृहस्थ का संन्यास ही है। जिम्मेदारियों से पीछे न हटें, उन्हें निभाएं। ईश्वरीय प्रेरणा तो अदृश्य कृपा है और वह पूर्णत: रहस्यमय है।"
    Posted By :   
 
"डूबने का डर अगर, मुझको हो तो कैसे हो ? मैं तेरा, कश्ती तेरी, साहिल तेरा और दरिया भी तेरा !!"
    Posted By :   
 
"जहां अभिमान होता है वहां कभी ज्ञान नहीं होता ज्ञान को पाने के लिए इंसान को अपना अहंकार को छोडना पड़ता है।"
    Posted By :   
 
"भगवान को रहने के लिए जगह की कमी थोड़े है । लेकिन भक्त के मन में, हृदय में रहने का मजा ही दूसरा है । इसलिए भगवान निर्मल मन वाले को तलासते रहते हैं । जैसे कोई निर्मल मन मिला उसमें बस जाते हैं । अतः भगवान को पाने के लिए हमें कुछ नहीं करना है । सिर्फ हमें अपने मन को निर्मल बना लेना है । सब छोड़कर हम अगर यह काम कर ले तो भगवान हमें मिल जाएंगे । भगवान खुद कहते हैं- ‘निर्मल मन सो जन मोहि पावा । हमहिं कपट छल छिद्र न भावा’ ।"
    Posted By :   
 
"कितना मुश्किल है ज़िन्दगी का ये सफ़र, खुदा नें मरना हराम किया,लोगों ने जीना."
    Posted By :   
 
"किताबी ज्ञान के साथ -साथ व्यवहारिक ज्ञान भी बहुत जरुरी हैं ! जो हमें अपने परिवार एवं समाज से मिलता हैं !! अतः परिवार और समाज का कर्तव्य हैं वह हमें अच्छा /सच्चा ज्ञान प्रदान करें !!"
    Posted By :   
 
""शिक्षl " का सबसे बड़ा "उपहार" सहनशक्ति है."
    Posted By :   
 
"जब क्रोध आए तो उसके परिणाम पर विचार कर लेना चाहिए."
    Posted By :   
 
"सद्व्यवहार से अच्छी और सस्ती कोई अन्य वस्तु नहीं."
    Posted By :   
 
""यह बीता हुआ समय कभी वापस नही आएगा."
    Posted By :   
 
"संसार व इसके सभी प्राणी अपूर्ण हैं। सब में कुछ न कुछ कमी है। सिर्फ एक ईश्वर पूर्ण है। एक वही है जो हर जीव से उतना ही प्रेम करता है, जितना जीव उससे करता है। बस हमीं उसे सच्चा प्रेम नहीं करते। गीता में कृष्ण ने यही समझाया है कि जो मुझ से प्रेम करता है, मैं उसका योगक्षेम वहन करता हूं -अर्थात उनके पास जिस वस्तु की कमी है, वह देता हूं और हर प्रकार से उसकी रक्षा करता हूं।"
    Posted By :   
 
"जब "ऊपरवाला" आपसे कुछ वापिस लेता है तो, यह मत सोचो कि उसने आपको कोई दंड दिया है, हो सकता है, उसने आपका हाथ खाली किया हो, पहले से बेहतर कुछ देने के लिए..!!"
    Posted By :   
 
"इतना लो थाली में, व्यर्थ ना जाए नाली में"
    Posted By :   
 
"शान्ति इन्सान के हाथों में ही है बस इन्सान, इन्सान ही बना रहे ..| इंसानियत सीख जाये और लोगों से इंसानियत से पेश आये .. इंसानियत क्या है .. ? इन्सान यह सीख जाये और इसका भेद जान जाये तो समझो जगत का कल्याण हो गया ..| इन्सान का इंसानियत भूल जाना छद्मवेश और झूठे आवरण में रहना उसे शान्ति के पथ से भटकता है..| जबकि शान्ति मनुष्य के अपने स्वयं के हाथों में है ."
    Posted By :   
 
"झूठ बेवजह दलील देता है .. सच खुद अपना वकील होता है "
    Posted By :   
 
"ऐसा चरित्र बनाए की दुसरे प्रसन्न हो ,आपको देखकर विश्वास पैदाहो आस्था को चोट न लगे ,श्रद्धा को सहेज कर रख सके यह बहुत बड़ी साधना है"
    Posted By :   
 
"अपने दुःख में रोने वाले मुस्कराना सीख ले। औरों के दुःख-दर्द में काम आना सीख ले।। जो खिलाने में मजा, वो आप खाने में नहीं। जिंदगी है चार दिन की, तू किसी के काम आना सीख ले।।"
    Posted By :   
 
"" मानो मत अगर जानना है तो जानने का पहला कदम है -- मानने से मुक्त हो जाना। पहले चाहिए कि तुम्हारे चित्त की स्लेट खाली हो जाए। पोंछ डालो जो भी दूसरों ने लिख दिया है। धो लो स्लेट, साफ कर लो। कोरी कर लो तुम्हारी किताब और मजा यह है कि कोरी किताब तुमने क्या की कि जैसे राम को आमंत्रण मिल जाता है। कोरी किताबों पर उतरता है वह फूल। कोरी किताबों पर आती है वह किरण। कोरी किताबों पर होता है वह विस्फोट। कोरी किताब यानी निर्दोष चित्त -- मान्यताओं से, विश्वासों से मुक्त। " ~ ओशो"
    Posted By :   
 
""लोगों" को "दुआ" के लिए कहने से ज्यादा बेहतर है ऐसे अमल करो कि "लोगों के दिल" से आप के लिए "दुआ" निकले ...!"
    Posted By :   
 
"कौन कहता है कि भगवान नजर नहीं आता ..? सिर्फ वो ही तो नजर आता है ,... जब कुछ नजर नहीं आता "
    Posted By :   
 
"लोगों के भीतर देखना, सारे जीवन कोशिश क्या चलती है? एक ही कोशिश कि किसी तरह सिद्ध कर दूं कि मैं विशिष्ट हूं; मैं कुछ खास हूं। मेरे जैसा कोई और नहीं। मेरे होने से पृथ्वी धन्य है। मैं न होता न मालूम दुनिया का क्या होता! मैं न रहूंगा तो दुनिया का पता नहीं क्या हो जाएगा। -ओशो"
    Posted By :   
 
"जिस प्रकार बूंद बूंद निरंतर झरते अभिषेक से देवता प्रसन्न होते है ; उसी प्रकार भक्ति भी रोज़ बूंद बूंद यानी थोड़ी थोड़ी किसी भी रूप में नियमित रूप से करें . ये ना हो के एक दिन तो बहुत सारी पूजा कर ली फिर कई दिन तक कुछ भी नहीं . भक्ति मार्ग पर वह आगे निकल जाता है जो कछुए की तरह धीरे ही सही पर निरंतर चलता रहता है "
    Posted By :   
 
"इक मुसाफ़िर के सफ़र जैसी है सबकी दुनिया कोई जल्दी में कोई देर में जाने वाला..."
    Posted By :   
 
"टूट जाता है ग़रीबी में वो रिश्ता जो ख़ास होता है... हज़ारो यार बनते हैं जब पैसा पास होता है..."
    Posted By :   
 
"“हमें भूत के बारे में पछतावा नहीं करना चाहिए, न ही भविष्य के बारे में चिंतित होना चाहिए; विवेकी व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं।” - चाणक्य "
    Posted By :   
 
"जीवन बहुमूल्य है, इसका एक एक क्षण प्रभु के स्मरण के लिए है। अतः इसे व्यर्थ मत करो, एक एक क्षण को सावधानी के साथ प्रभु के चिंतन और प्रभु की सेवा में लगाओ."
    Posted By :   
 
"मै अपनी जिंदगी में हर किसी को अहमियत इसलिए देती हूं, कि जो अच्छे होंगे वो खुशियां देंगे और जो बुरे होंगे वो सबक देंगे.."
    Posted By :   
 
"बुरा व्यक्ति उस समय और भी बुरा हो जाता है..जब वह अच्छा होने का दिखावा करता है.."
    Posted By :   
 
"अपनी मर्यादा की सीमा कभी भी नही लांघनी चाहिए: एक लकीर ही तो लांघी थी " सीता " ने पूरी " रामा यण " ही दुखो में ही गुजर गई एक बोल ही बोला था " द्रोपदी " ने की अंधे का बेटा " अँधा " पूरी " महाभारत " ही लड़ाई में गुजर गई."
    Posted By :   
 
"मन का स्वभाव है कि वह किसी बात पर अधिक समय स्थिर नहीं रहता और उचटकर बार-बार इधर-उधर उड़ता है । आप किसी बात को सोचना चाहते हैं, किंतु मन उस पर नहीं जमता । ऐसी दशा में उस चिंतनीय विषय का कोई ठीक-ठीक निर्णय नहीं हो सकेगा । इस प्रकार की स्थिति उत्पन्न होने पर उत्तम मस्तिष्क वाले भी उतना काम नहीं कर सकते जितना कि साधारण मस्तिष्क के किंतु स्थिर चित्त वाले कर सकते हैं । कोई मनुष्य कितना ही चतुर क्यों न हो, यदि उसके मन को उचटने की आदत है और इच्छित विषय में एकाग्र नहीं होता, तो उसकी चतुरता किसी काम न आवेगी और उसके निर्णय अपूर्ण एवं असंतोषजनक होंगे "
    Posted By :   
 
"अपमान का घूंट और दवा की गोलियां निगल जाने के लिए होती हैं, मुंह में रखकर चूसते रहने के लिए नहीं...."
    Posted By :   
 
"दुश्मन में हुनर है तो उसकी भी तारीफ करो दिल से ना जाने कौन सी बात जिंदगी जीना सीखा सकती है ....!!!"
    Posted By :   
 
"Aap Ka Khush Rahna Hi, "AAPKA" Bura Chahne Walon Ke Liye Sabse Badi Saza Hai..!! "
    Posted By :   
 
"दुनिया में सबसे बेतरीन रिश्ता वही है, जहा एक मामूली सी"मुस्कराहट"और हल्की सी"sorry"से, जिंदगी दुबारा पहले जैसी हो जाती है...|"
    Posted By :   
 
"किसी और की नीव पर बना मकान जाने कब गिर जाये, उसकी मजबूती का भरोसा तो तब होता है जब बुनियाद में हर ईंट अपने हाथों से रखी हो !"
    Posted By :   
 
"लोग दूसरों के जीवन में इतनी रूचि क्यों लेते हैं? लगता है उनका स्वयं का जीवन दिलचस्प नहीं है."
    Posted By :   
 
"मूर्ख मनुष्य क्रोध को जोर-शोर से प्रगट करता है, किंतु "बुद्धिमान" शांति से उसे वश में करता है..!!"
    Posted By :   
 
"जो मनुष्य इसी जन्म में मुक्ति प्राप्त करना चाहता है, उसे एक ही जन्म में हजारों वर्ष का काम करना पड़ेगा। वह जिस युग में जन्मा है, उससे उसे बहुत आगे जाना पड़ेगा, किन्तु साधारण लोग किसी तरह रेंगते-रेंगते ही आगे बढ़ सकते हैं।"
    Posted By :   
 
"तुम्हें तभी तक चलना है जब तक तुम समुद्र तक न पंहुच जाओ| समुद्र में तुम्हें चलने की आवश्यकता नहीं है, अब केवल बहना और तैरना है| उसी तरह, एक बार गुरु के पास पंहुचने पर खोज का अंत होता है और खिलना आरम्भ होता है| "
    Posted By :   
 
"कानो से चाहे कम सुनायी पड़े, आँखों कि रौशनी भी चाहे घट जाए, सारे शरीर का बल भी चाहे क्षीण हो जाये किन्तु यदि श्री हरि में प्रेम नहीं घटे तो इनके घटने से हमारा क्या घट जायेगा?"
    Posted By :   
 
" संसार में सच्चा सुख वही है जो हमारी आत्मा को सुख पहुँचाता है न की केवल हमारे शरीर को. "
    Posted By :   
 
"धन के नशे में अंधा व्यक्ति हितकारी बाते नहीं सुनता है और न ही अपने निकट किसी को देखता है . "
    Posted By :   
 
""असंभव" शब्द का प्रयोग केवल कायर करते हैं, बहादुर और बुद्धिमान व्यक्ति अपना मार्ग स्वयं प्रशस्त करते हैं."
    Posted By :   
 
"अगर हम आज जिंदगी में असफल है तो इसका एक प्रमुख कारण हमारा ख़ुद पर विश्वास न होना है."
    Posted By :   
 
"जो मानव अपनी निंदा सुन लेता है वह सारे जगत पर विजय प्राप्त कर लेता है. "
    Posted By :   
 
"अक्सर लोग अपनी जिंदगी का बहुमूल्य समय उन लोगो के बारे में सोच कर नष्ट कर देते है जिनके लिए वह अस्तित्व ही नहीं रखते."
    Posted By :   
 
"जो व्यक्ति हर बात में निराशा देखते है, उनका भविष्य अंधकारमय होना निश्चित है. "
    Posted By :   
 
"दुनिया में दिक्कत यह है कि बुद्धिमान लोग हमेशा शंका में रहते है जबकि मुर्ख लोग हमेशा आत्मविश्वास से भरे रहते है."
    Posted By :   
 
"शब्द सम्हारे बोलिये, शब्द के हाँथ न पाँव । एक शब्द औषधि करे, एक शब्द करे घाव ॥"
    Posted By :   
 
"कबीर जी कहते हैं ,' हमें शब्द सोच समझ कर बोलने चाहिए , भले शब्दों के हाथ पाँव नहीं होते पर फिर भी अच्छे शब्द तो औषधि का काम करते हैं और बुरे शब्द दूसरों को चोट पहुंचाते हैं . "
    Posted By :   
 
"कोशिश करने वालो की कभी हार नही होती…"
    Posted By :   
 
"संयम और परिश्रम इंसान के दो सर्वोत्तम चिकित्सक है, परिश्रम से भूख बढ़ जाती है और संयम अतिभोग से रोकता है."
    Posted By :   
 
"मन की दुर्बलता से अधिक भयानक कोई पाप नहीं है."
    Posted By :   
 
"तेरे अपने दुखों का कारण तू स्वयं है, तू सदा दूसरों को दुःख देने के लिये जाल विछाता रहा, दूसरों पर जुल्म ढाता रहा! आज खुद फंस गया! फिर रोने से क्या फ़ायदा! "
    Posted By :   
 
"नजर में खोट हो तो सब ओर खोट ही नजर आती है! सोना [ गोल्ड] भी दूसरे के पास हो तो पीतल ही नजर आता है!"
    Posted By :   
 
"आपकी जिंदगी में जों भी अच्छा हों उसके लिए कृतज्ञ होईये |कृतज्ञता जीवन में और ज्यादा पाने का सबसे अच्छा तरीका हैं ,उन वस्तुओ और व्यक्तियों के प्रति कृतज्ञ होईये जों आपके जीवन को उम्दा बना रहे हैं |जों वस्तुए आप पाना चाहे उनके प्रति इस तरह कृतज्ञ होईये मानो वे अभी आपके पास हैं"
    Posted By :   
 
 
Like Our Facebook Page, to Get Regular Updates
 
 
 
Sun Sign Details
 
Aries
Taurus
Gemini
Cancer
Leo
Virgo
Libra
Scorpio
Sagittarius
Capricorn
Aquarius
Pisces
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
 
 
Festivals
» Festival Calender of 2013
» Festival Calender of 2014
 
 
Find More
 
Quick List
   |    |   
 
 
Google+   
 
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.