Subscribe for Newsletter
सप्ताह के सातो दिन होगा शुभ करें ये उपाय

हम सभी चाहते है कि हमारा प्रत्येक दिन शुभ हो, हमें शुभ समाचार मिले, कार्यो में सफलता मिले , मान सम्मान की प्राप्ति हो , हममे ऊर्जा और उत्साह भरा रहे । इसके लिए हमारे ऋषि मुनियों ने कई ऐसा उपाय बताये है जिनको करने से हमें श्रेष्ठ लाभ मिलता है । जैसे नित्य प्रतिदिन घर से बाहर काम पर जाते समय अपनी माँ अथवा पत्नी के हाथ से थोड़ा मीठा दही या कुछ भी मीठा जैसे एक चुटकी चीनी ही खाकर तथा उस दिन के हिसाब से उपाय करके बाहर जाये आपको सर्वत्र सफलता मिलेगी। 
शास्त्रों के अनुसार किसी भी शुभ कार्य में जाने से पहले यदि सप्ताह के सभी दिन यथासंभव निम्न बातों का ध्यान रखें तो हर प्रकार से उन्नति एवं लाभ की प्राप्ति होती है ।

1. जीवन में सुख-समृद्धि ,यश , पारिवारिक सुखो के लिए नित्य प्रात: उगते सूर्य को ताम्बे के बर्तन में जल में लाल चंदन, अक्षत, गुड़ और लाल पुष्प डालकर अर्घ्य दें ( जल चढ़ाएं ) ।

2. जीवन में पापो के नाश , पुण्य फलो को बढ़ाने के लिए नित्य नियमपूर्वक चींटियों को पंजीरी ( भुने आटे में चीनी मिलाकर ) डालें ।

3. नित्य अपने घर में बनने वाली पहली तीन रोटी गाय , कौवे ( पक्षियों ) कुत्ते के लिए निकाले । इन रोटियों पर घी लगाकर , इनके ऊपर चीनी रखकर पहले इन्हे खिलाएं फिर खुद भोजन करें । या कम से कम पक्षियों के लिए निकाली गयी रोटी के छोटे छोटे टुकड़े करके घर की छत पर / आँगन आदि पर डाल दें ।

  • रविवार को घर से घी या पान खाकर बाहर जाएँ,
  • सोमवार को दर्पण में चेहरा देखकर , दूध पीकर बाहर जाएँ सफलता के योग प्रबल होते है,
  • मंगलवार को घर से गुड़ खाकर जाने से कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलती है ,
  • बुधवार को घर से धनिया या तिल खाकर जाने से कार्यो निर्विघ्न रूप से सफल होते है ,
  • गुरुवार को जीरा या गुड़ खाकर जाने से कार्यो में मनवान्छित सफलता मिलती है,
  • शुक्रवार को घर से दही, मिश्री खाकर जाने से सोचे हुए कार्य पूर्ण होते है,
  • शनिवार को घर से अदरक ,उड़द खाकर जाने से शुभ समाचारो की प्राप्ति होती है।

इसके अतिरिक्त अपने कर्मो के श्रेष्ठ परिणाम प्राप्त करने के लिए, विघ्नो को दूर करने के लिए सप्ताह के प्रत्येक दिन निम्नलिखित उपाय भी अवश्य ही करें ।

1. रविवार को सूर्य देव को अर्घ्य दें एवं आदित्यह्रदय स्तोत्रम का पाठ करें । रविवार को यथासंभव नमक ना खाएं , रविवार को मीठा भोजन करें । गाय को गुड़ अवश्य ही खिलाएं ।
 
रविवार को बेलपत्र के पौधे पर जल चढ़ाकर, तिलक करें, मिश्री बताशे, गुड़ आदि कुछ भी चढ़ाएं और धूप जलाएं । शास्त्रों के अनुसार ऐसा करने से पापो का नाश होता है पुण्य बढ़ते है । 
रविवार को भैरव जी के दर्शन अवश्य ही करें । उन्हें जलेबी , नमकीन का भोग लगाएं । 
रविवार के दिन भूलकर भी मसूर की दाल नहीं खानी चाहिए। इस दिन मसूर की दाल बनाना और सेवन करना अशुभ माना जाता है। रविवार के दिन अदरक का सेवन भी ना करें और कांसे के बर्तन में भोजन न खाएं।

2. सोमवार को भगवान शिव के अवश्य ही दर्शन करें , शिवलिंग पर जल. दूध, शहद, अक्षत, तिल, आँवले आदि को चढ़ाकर सफ़ेद चन्दन से तिलक करें, बेलपत्र, शमी पत्र, मदार, सफ़ेद पुष्प चढ़ाएं । इससे जीवन में सभी सुखो की प्राप्ति होती है, सकंट दूर रहते है । 
सोमवार को दूध , चावल आदि का अवश्य ही सेवन करें । 
भगवान शंकर को कच्चे चावल चढ़ाने से धन लाभ होता है । सोमवार को भगवान शिव को तिल अर्पित करने से समस्त रोगो और पापो का नाश होता है।

3. मंगलवार को हनुमान चालीसा , बजरंग का अवश्य ही पाठ करें । हनुमान जी के दर्शन करके उन्हें गुड़ - चने अथवा बूँदी / लड्डुओं / लाल पेड़े का भोग लगाएं । 
मंगलवार को गाय को घी की रोटी पर गुड़ रखकर खिलाएं, धन सम्पति बनती है ,उत्तम भवन निर्माण होता है । 
मंगलवार को किसी को भी ऋण ना दे । शास्त्रों के अनुसार मंगलवार को ऋण देने से धन के डूब जाने की आशंका होती है । और हाँ मंगलवार को मांस मदिरा का सेवन भी नहीं करना चाहिए । 
जीवन के समस्त संकटो के निवारण के लिए मंगलवार को हनुमान जी के मंदिर में जाकर राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करें।

4. बुधवार को गणेश जी को रोली का तिलक लगाते हुए दूर्वा चढ़ाएं और लड्ड़ओं / गुड़ का भोग लगाएं। बुधवार को गाय को हरा चारा खिलाने से धन सम्बन्धी कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलती है । 
बुधवार को हरी सब्जी , हरे मसूर आदि का सेवन अवश्य ही करें ।

5. गुरुवार को घर की तुलसी को जल में दूध मिलाकर उससे सींचे, इस उपाय को करने से घर में माँ लक्ष्मी की स्थाई कृपा बनी रहती है । 
गुरुवार को केले के पेड़ पर दूध, ताम्वे के बर्तन में जल में चने की दाल डालकर चढ़ाएं , पीले चन्दन से तिलक करते हुए धूप जलाएं इससे दाम्पत्य जीवन में मधुरता आती है परिवार में सुख शांति बनी रहती है । 
गुरुवार को काले चने या उड़द की खिचड़ी ना खाएं, गुरुवार को चने की दाल,( पीली दाल ), पीले फलो का सेवन अवश्य करें । 
गुरुवार को नाख़ून, बाल और दाढ़ी नहीं कटाने चाहिए वरना माँ लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है ।

6. शुक्रवार को गाय को सफ़ेद चावलों में दूध और चीनी मिलाकर खिलाएं, इससे धन लाभ के साथ साथ परिवार में सुख-शान्ति और प्रेम भी बना रहता है ।
शुक्रवार को साँयकाल लक्ष्मी मंदिर में सुगन्धित धूप अगरबत्ती अर्पित करके कुछ वहीँ पर जला दें इससे माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है ।

7. शनिवार को पीपल पर प्रात: दूध मिश्रित मीठा जल चढ़ाकर पीपल की सात परिक्रमा करें एवं साँय काल पीपल पर चौमुखा दीपक जलाएं । 

इससे कुंडली के ग्रहो की अशुभ फलो में कमी आती है, शुभ फल मिलने लगते है । 
शनिवार को काले कुत्ते को रोटी पर कड़वा तेल लगाकर , उस पर चीनी रखकर खिलाएं । 
शनिवार को किसी ना किसी रूप में काले चने, उड़द की खिचड़ी या काले नमक का सेवन अवश्य ही करें , इससे शनि देव प्रसन्न होते है , शुभ फल प्राप्त होते है।

 
 
 
Comments:
 
 
 
 
 
 
Free Numerology
Enter Your Name :
Enter Your Date of Birth :
Copyright © MyGuru.in. All Rights Reserved.
Site By rpgwebsolutions.com